क्या आप ले रहे है used car? तो Test Drive लेते समय ध्यान दे इन बातों का –

जहा भारत automobile industry hub के रूप में उबर रहा है,  देश-विदेश कंपनियां भारत में निवेश कर रही है, वही देश का used car market भी 24-26% की दर से आगे बढ़ रहा है। CRISIL की एक रिपोर्ट के मुताबिक FY 2011-12 में  used car की sales 2.6mn थी, 2016-17 में बढ़कर 7.7mn तक पहुंच गयी। ऐसे में बढ़ते Used Car Market growth देखते हुए हर ऑटोमोबाइल कंपनी ने pre-owned cars showroom भी खोल दिए है, उदाहरण के तौर पर Maruti का truevalue, Mahindra का Mahindra First Choice आदि। साथ ही  olx, quickr cars जैसे online platforms भी develop हो चुके है।

खेर खरीदने के साधन तो बहुत है, पर खरीदते समय किन बातों का ध्यान दे? Paperworks, outer/inner body conditions पर ध्यान देना तो जरूरी है ही, पर आज हम बात करंगे test drive के दौरान ध्यान दी जाने वाली चीज़ो पर, जो मदद करेगी आपको गाडी की condition व performance को समझने में।

1. जाँच ले गाडी का temperature

test drive से पहले बोनट(bonnet) पर हाथ रख गाडी का टेम्परेचर जाँच ले, अगर गाडी normal temperature पर हो तब ही चलाये। जिससे आपको गाडी की heating condition के बारे में जानने को सहायता मिलेगी।

2. Start कर छोड़ दे।

Neutral गियर पर स्टार्ट कर. गाडी को कुछ छोड़ दे। ध्यान दे driver cabin में किसी प्रकार का noise व vibration महसूस हो रहा है या नहीं।

3. ले एक लम्बी test drive

अक्सर used cars sellers छोटी टेस्ट ड्राइव के लिए insist करते है पर आप जल्दी न करे। 15 से 20 km की काम से काम test drive ले, जिससे आपको गाडी की actual कंडीशन जानने में मदद मिलेगी।

4. ध्यान दे undesirable sounds/noise पे।

High speed,rpm पर ध्यान दे किसी प्रकार के vibrations व इंजन noise का, साथ ही windows open कर भी बहार से आने वाली noise करे।

5. Brake Test

किसी खाली रोड पर जरूर ले एक emergency brake test. ध्यान दे stopping distance पर। ये आपको मदद करेगा braking/brake shoes condition समझने में।

6. ले handbrake टेस्ट भी।

अक्सर usedcarbuyers handbrake को टेस्ट नहीं करते, पर ये भी बेहद जरूरी है। किसी slope (ढलान)/hilly वाली रोड पर handbrake लगा कर ध्यान दे गाडी rollback होती है या नहीं।

7. अलग-अलग रोड conditions पर ले test drive

खड्डे व braker वाली रोड गाडी के suspensions, hilly area गाडी के torque व power, highways- pickup,acceleration response व city traffic conditions इंजन से आने वाली noise, heating तथा clutch व gear changing response को समझने में मदद करेगा।

8. Steering feedback

ध्यान दे steering response कैसा है? किसी प्रकार के vibrations या steering wheel से grip loose करने पर गाडी एक साइड को तो नहीं मूड रही? अगर ऐसा होता है तो क्रमशः steering wheel assembly व alignment में समस्या हो सकती है। साथ ही u-turn व 360 डिग्री turn पर भी steering response check करे।

9. Drive करे AC व without AC

Full AC condition व बिना AC ऑन करे, ले ड्राइव। इससे आपको AC on व बांध रहने पर इंजन पर पड़ने वाले load व pickup difference का पता चलेगा।

10. ले Smoke Test

गाडी से निकलने वाले smoke के कलर पर ध्यान दे। यदि स्मोक blue, black या  white रंग का है तो यह खरब इंजन कंडीशन का लक्षण है।

11. Check All Electrical Parts

सभी इलेक्ट्रिकल equipments जैसे headlights, indicators,foglamps,music system, AC, windshield wipers आदि को जाँच ले।

11. ध्यान दे unwanted smell पर

ध्यान दे किसी प्रकार की oil या wire जलने की smell तो नहीं आरही ?

12. Check Oil Leak

Test drive के बाद कार के नीचे (under the car) check करे किसी प्रकार का leakage तो नहीं हो रहा।

 

1 COMMENT

Leave a Reply