क्या Royal Enfield सच में हाथी है ? #HaathiMatPaalo

39
987

एक जमाना था जब डुग डुग डुग आवाज ही कुछ और हुआ करती थी जो दिलों की धड़कन के साथ बजा करती थी। इस आवाज का रौब हुआ करता था और इसे चलाने वाला मर्द कहलाता था क्योंकि इसे स्टार्ट करने में कईयों के जूते चप्पल हवा में उड़ जाया करते थे। और इसे स्टार्ट करना हर किसी के बस की बात नहीं थी। उस ज़माने में इसकी टक्कर की भी मोटरसिकिलें हुआ करती थी लेकिन वो सारी इतिहास के पन्नों में पायी जाती है और ये अभी भी बाजार में सांसें ले रही है। उस दौर में इसके मालिक को बड़ा सम्मान मिलता था क्योंकि इसको पालना हर किसी के बस की बात नहीं थी।

लेकिन धीरे धीरे समय बदला और कई जापानी ब्रांड बाजार में आये जो पेट्रोल को सूंघकर काम चला देते थे। सर्विस में लगभग इससे आधा खर्चा आने लगा और खरीदना भी इससे काफी आसान था क्योंकि काफी सस्ती हुआ करती थी जापानी मोटरसाइकिल। लेकिन इसका नशा लोगों में बरक़रार रहा। जापानी मोटरसाइकिल लोगों की आत्मा को तृप्त नहीं कर पा रही थीं। लेकिन लोगों का काम जापानी मोटरसिकिलें से चलने लगा और आज भी बहुत सरे ऐसे ब्रांड है जिन्हें खरीदने, पालने और चलाने का खर्चा काफी कम है और तो और उनकी तकनीक भी आधुनिक है।आज भी लोग शौकीआ तौर पर इसे खरीदते है और उन्हें गर्व महसूस होता है इसको चलाने पर। जैसे मानो ये एक सर्टिफिकेट है उनकी मर्दांगनी का। कुछ लोगों को ये गरीबी में अमीरी का एहसास दिलाती है। लेकिन अब इसे एक नया दर्जा मिला है “हाथी” का और ये कहाँ तक सच है और क्या कारण है इसको ये दर्जा मिलने के आइये देखते हैं।

1- It’s Weight / इसका वजन :-

यह मोटरसाइकिल जरुरत से ज्यादा भारी है। माना की इसमें प्लास्टिक का उपयोग नहीं किआ गया है और कुछ लोगों की ग़लतफहमी यह भी है की ज्यादा वजन होने से मोटरसाइकिल सड़क से चिपक कर चलती है और बैलेंस बना रहता है। इस बात का एहसास तब होता है जब आपकी मोटरसाइकिल कहीं ख़राब हो जाती है, बंद हो जाती है, पंक्चर हो जाती है या घर में पार्किंग में गैराज में इधर उधर आगे पीछे करना होता है तो पसीने आ जाते हैं।

2- Cost of Ownership/Maintenance is high/पालने का खर्चा :-

यह लोहे की मशीन खरीदने में ही महंगी नहीं पड़ती बल्कि इसको पालना बड़ा ही महंगा पड़ता है। और इसको इसके ओरिजिनल शेप में रखने के लिए आपको बार बार मैकेनिक के पास जाना पड़ता है , लेकिन हाँ आप और आपका मैकेनिक इसकी वजह से बहुत अच्छे दोस्त भी बन जाते हैं।

3- Low Speed & Low Mileage /कम स्पीड और साथ में कम माइलेज :-

ये तो समझ में आता है की जिस बाइक की स्पीड और Pickup कम होगा तो उसकी माइलेज अच्छी होगी और माइलेज अच्छी नहीं होगी तो स्पीड और Pickup अच्छा होगा। लेकिन यहाँ दोनों कम है। एक 150 cc की मोटरसाइकिल इससे ज्यादा भाग भी सकती है, जल्दी स्पीड भी पकड़ सकती है और साथ ही साथ अच्छा माइलेज भी दे सकती है।

4- Noise & Vibration High/नॉइज़ और वाइब्रेशन :-

हालाँकि जब से इंजन बदल दिए गए हैं तब से इसकी आवाज से कोई शिकायत नहीं है लेकिन पब्लिक का जी नहीं भरता उन्हें Silencer बदलवाना जरूरी ही होता है नहीं तो जनता को पता कैसे चलेगा की भाई के पास बुलेट है। और रही वाइब्रेशन की बात 90 की स्पीड से आगे बढ़ते ही हैंडल कपकपाने लग जाता है लेकिन हाईवे पर इसका फायदा भी है इसमें आपको कभी नींद नहीं आएगी , ये आपको हिला हिलाकर जगाते रहेगी।

5- Bad Brakes /ब्रेक :-

एक तो ये भागती नहीं और भागती है तो फिर रूकती नहीं। ब्रैकिंग में अभी काफी सुधार की जरुरत है। उम्मीद करते हैं जल्द ही ABS भी आएगा इस मोटरसाइकिल में।

और भी बहुत से कारण है जिनके कारण इसको “हाथी ” की उपाधि मिली हुई है। अगर आपको लगता है तो कमेंट जरूर करें।

सही बात अगर मैं बोलूँ तो इसके बिकने के सिर्फ और सिर्फ 2 ही कारण है।

1- इसकी क्लासिक स्टाइल और Macho Look.
2- इसकी डुग डुग आवाज़ जो कि आजकल इसपर और अधिक पैसे खर्च करने पर मिलती है यानि की Silencer बदलने के बाद।

और मैं आपसे जानना चाहूंगा की और क्या वजह है इसको खरीदने की ? कमेंट में जरुर बताएं।

39 COMMENTS

  1. In this case we usually face mixed opinions, everything you mentioned here is 100% true, but the problem is lack of knowledge to compare the vehicles. Anyways great article.

  2. इस बेबसाइट के शुभारंभ पर हमारे अमित सर ,रविंद सर और गगन सर को बहुत बहुत बधाई ।
    पाठको की ओर से सादर आभार ।

  3. Royal enfield के संबंध मे ऐसा लेख आज तक नही पढा । इस लेख की तारीफ के लिये मेरे पास शब्द नही है । केवल आभार व्यक्त कर सकता हूं ।धन्यवाद सर

  4. Few people even consider (misconception) RE as an Indian brand and feel proud of owning it. Another most common reason I ever heard is “Bhai, 350 cc ka engine hai aur fir bhi ~35kmpl nikal leti hai, aur kya chahiye!”, these are kind of people who judge a bike by its CC and never can never realize the true performance of it simply because they can’t!

  5. Bullet not for going long rids its vibrate a lot after 80 km/h… bullet owners of my friends circle take my bike which is Karizma R 2011 and going to long distance very comfortably..

  6. इसे स्टार्ट करने में कईयों के जूते चप्पल हवा में उड़ जाया करते थे।😂😂😂
    सर एक बात कहना चाहूंगा आपकी लेख एकदम जबरदस्त है। आगे भी ऐसे लिखते रखिये।

  7. इसे स्टार्ट करने में कईयों के जूते चप्पल हवा में उड़ जाया करते थे। 😂😂😂
    पर सर एक बात कहना चाहूँगा आपका लेख बहुत ही अच्छी है।
    वेबसाइट भी neat and simple है।

  8. Meine bullet khareedi thi kyunki sirf yehi mera bhari vajan seh kr bina engine dbe chalti thi, dug dug ka apna he mja hai. Dusri bike iske samne batakh (duck) lagti hai, no offense. Aur itne paise mein classic look yehi gaadi detti hai.

  9. First of all Congratulations Amit Sir for New website.
    I am regular viewer of Ask Carguru and Gagan’s Blog.
    Ravindra ji Nice and practical article on RE. Thank you for that.

    I am a comman man and wants to take 150 cc bike for my daily regular use + little bit touring.
    I got confused in between Yamaha FZ S Fi ver 2.0 and Suzuki Gixxer 150.
    Can you please put some light on Mileage, reliability, performance, pricing in Maharashtra.
    Which one is the best ?

    Looking forward for your reply.

  10. सुंदर लेख, मेरे पास भी बुलेट है और में असे बेचना चाहता हूं, अगर कोई इन्टरेस्टेड है तो मेल करे – [email protected]

  11. 1 vajaha yeh bhi ho sakti hai ke jin logon ko kasrat karne ka time nahi milta voh log paasine nikalwane ke liye iise own kar lete honge[[[[ just joking ]]]]….vaise bike is fantastic.

  12. I amfacing a problem in my Classic 350 while engine on its difficult to put bike in neutral and once engine off it will easily come to neutral please suggest solution for this problem.

  13. Bullet is for those men ,who are mature, Jo ek controlled speed 45-75 km/Hr per drive kare , apni bike ki time service and maintenance kare, and ager esa koi bhi karega to bullet will never bother him. I have 4Speed right side gear shift, and as well 2015 model UCE standard 350 both are in good condition and gave me avg .always above 40. bai there must be some improvement like ABS etc but Its Ok for bullet. Arram se chalo enjoy the ride and be safe on road.

  14. Hi all of you good evening and congratulations for your website ,
    Sir bullet ek aisa sher jo ki har koi ni paal sakta ,only for emperor’s

Leave a Reply