महिंद्रा व टाटा मोटर्स ने किया महाराष्ट्र सरकार के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर, बढ़ाएंगे राज्य में इलेक्ट्रिक वाहनों की गतिशीलता।

19 अरब अमरिकी डॉलर वाली महिंद्रा समूह के हिस्से वाली महिंद्रा एंड महिंद्रा व 45 अरब अमरीकी डॉलर वाली टाटा मोटर्स ने 1,000 इलेक्ट्रिक वाहनों को तैनात करने के लिए महाराष्ट्र सरकार के साथ समझौता ज्ञापन (MoU) पर आज हस्ताक्षर किए हैं। 

महाराष्ट्र सरकार व महिंद्रा के बीच में यह साझा महिंद्रा ने अपने वइलेक्ट्रिक वाहनों (EV) में विस्तार के अपने अगले चरण को आगे बढ़ाने और पूरी तरह से electricity(बिजली) से चलने वाले वाहनों की अपनी दृष्टि को प्राप्त करने के लिए एक ओर कदम है। यह निजी उपयोग (private use) के साथ-साथ सार्वजनिक उपयोग (public use) के लिए इलेक्ट्रिक वाहनों(EV) को तेजी से अपनाने के लिए सरकार के प्रयास के अनुरूप है।

वही टाटा मोटर्स राज्य में EV चार्जिंग स्टेशनों की स्थापना की सुविधा भी प्रदान करेगा। समझौता ज्ञापन महाराष्ट्र में EV को अपनाने में तेजी लाने के लिए महाराष्ट्र इलेक्ट्रिक वाहन नीति 2018 को बढ़ावा देता है। ग्वेन्टर बुट्शेक (सीईओ और प्रबंध निदेशक,टाटा मोटर्स ) ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री श्री देवेंद्र फडणवीस की उपस्थिति में MoU पर हस्ताक्षर किए। इसके अतिरिक्त, मुख्यमंत्री ने गेटवे ऑफ इंडिया, मुंबई में 5 Tata Tigor EV को भी ध्वजांकित किया। ये वाहन टाटा मोटर्स द्वारा EESL (Energy Efficiency Services Limited) को अपने टेंडर के हिस्से के रूप में प्रदान किए गए।

महाराष्ट्र को इलेक्ट्रिक वाहनों व उनके कंपोनेंट्स निर्माण के लिए वैश्विक स्तर पर प्रतिस्पर्धी राज्य बनाने और राज्य में इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने के लिए सरकार ने इस साझेदारी पर हस्ताक्षर किए हैं।।

इस MoU के पहले चरण केतहत राज्य को पूर्ण रूप से इलेक्ट्रिक वाहन समृद्ध बनाने के लिए महिंद्रा अपने चाकन प्लांट में अतिरिक्त 500 करोड़ का निवेश करेगा जहा इलेक्ट्रिक वाहनों, ई-मोटर, नियंत्रक (Controller), बैटरी पैक और अन्य इलेक्ट्रिक वाहनों के कंपोनेंट्स का निर्माण भी किया जाएगा। 

MoU के दूसरे चरण में महाराष्ट राज्य के मुख्य शहरो में इलेक्ट्रिक वाहनों की तैनाती से सम्बंधित रणनीतिक गठबंधन का उल्लेख है। इसके लिए महिंद्रा और महाराष्ट्र सरकार आने वाले एक साल में 1,000 इलेक्ट्रिक कारों को तैनात करने के लिए विभिन्न टैक्सी/कैब, लोजिस्टिक्स कंपनियों के साथ मिलकर काम करेंगे।

इस मौके पर महिंद्रा एंड महिंद्रा(M&M) के मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ पवन गोयनका ने कहा की, “हम चाकन में हमारी इलेक्ट्रिक व्हीकल विस्तार योजनाओं के अगले चरण की घोषणा करने से प्रसन्न हैं और महाराष्ट्र सरकार को उनके निरंतर और अप्रत्याशित समर्थन के लिए धन्यवाद देना चाहते हैं। पिछले एक दशक से महिंद्रा ने भारत में टिकाऊ गतिशीलता का नेतृत्व किया है और इसके लिए हम प्रतिबद्ध है। अब हम next generation electric vehicle technology में आगे निवेश कर रहे हैं और इलेक्ट्रिक वाहनों को तेजी से अपनाने के लिए निजी और सार्वजनिक दोनों पारिस्थितिकी तंत्र के हितधारकों के साथ सक्रिय रूप से शामिल हैं। महाराष्ट्र सरकार इस तथ्य को पहचानती है और महाराष्ट्र राज्य को आने वाले सालों में हमारे विकास में महत्वपूर्ण भागीदार बनाने में प्रसन्नता हो रही है।”

साथ ही आपको बता दे, महिंद्रा 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस (World Environment Day) के मौके पर इस MoU के तहत अपनी e2O-Plus इलेक्ट्रिक हैचबैक के 25 यूनिट्स को Zoom-car के प्लेफॉर्म पर मुंबई में लांच करेगा।

Leave a Reply