1 जनवरी 2019 से होगी high security number plates अनिवार्य

सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय ने मोटर वाहन अधिनियम 1989 की धारा 10 में शामिल शक्तियों का प्रयोग करते हुए 1 जनवरी 2019 से सभी गाड़ियों में HSNP (high security number plates) को अनिवार्य कर दिया है।

वाहन निर्माताओं को यह प्लेट्स अपनी गाड़ियों के साथ लगा कर बेचनी होगी। जिसकी क़ीमत वाहन निर्माता वाहन में जोड़ सकते है, यह साफ़ किया सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्री श्री नितिन गडकरी जी ने। यह फ़ैसला वाहन चोरी व गाड़ियों द्वारा होने वाले हादसों व गैरकनुनी गतिविधियो पर लगाम लगाने के उद्देश्य से लिया गया है।

HSRP, क्रोमियम प्लेट होती है जिसपर 7 अंको का लेज़र कोड यूनिक रजिस्ट्रेशन नंबर होता है। जिसके द्वारा वाहन के मालिक के बड़े में तमाम जानकारी उपलब्ध की जा सकती है। नंबर प्लेट पर IND लिखा होगा व उबरे हुए नंबर, रात में भी आसानी से दिखाई पढ़ने वाले होंगे, तथा इसके साथ छेड़छाड़ करना मुश्किल होगा।

इनकी कीमत 800 से 40,000 रुपए के मध्य होगी। साथ ही 15 साल की गुरंटी दी जाएगी। वर्तमान में high  security प्लेट्स कुछ राज्यों में अनिवार्य व क्षेत्रीय तथा जिला परिवहन कार्यालयों (RTO व DTO) व authorised dealers द्वारा  बनाई जा रही है।

High Security Registration Plate : Features

यह सुरक्षा के लिहाज़ से एक महत्वपूर्ण कदम है। इसमें एक self destructive sticker होगा जिसमे वाहन का chasis व engine नंबर, रजिस्ट्रेशन अथॉरिटी, रजिस्ट्रेशन नंबर व laser based PIN (Permanent Identification Number) अंकित होंगे। यह क्रोमियम होलोग्राम/स्टिकर प्लेट के top-left side के साथ windshield के अंदुरनी भाग में भी लगाना होगा।

साथ ही देखे – HSRP – क्यों जरूरी ?

2 COMMENTS

Leave a Reply