एक और कदम डिजिटल इंडिया की ओर, जल्द ही वाहनों के डिजिटल डाक्यूमेंट्स होंगे मान्य

पेपर लेस होगा वाहनों का सड़क पर चलना, जल्द ही मान्य होंगे ई-डाक्यूमेंट्स भी।

 

जल्द ही वाहनों के मूल कागजात साथ रखने से मिलेगी मुक्ति, जी हाँ आपने सही सुना, केंद्र सरकार जल्द ही मोटर वाहन अधिनियम में संशोधन करने जा रही है जिसके बाद वाहन के डिजिटल दस्तावेज भी मान्य होंगे। जिनमे वाहन का रजिस्ट्रेशन, बिमा, चालक का लाइसेंस व प्रदुषण सर्टिफिकेट भी शामिल होंगे।

कहा से कर सकेंगे digital documents डाउनलोड ?

आपको अपने डिजिटल डाक्यूमेंट्स प्राप्त करने के लिए भारत सरकार की digilocker मोबाइल एप्लीकेशन या वेबसाइट का इस्तमाल करना होगा। जिसे आप अपने स्मार्टफोन या अन्य डिजिटल डिवाइस में एक्सेस कर सकते है।

जिसके बाद आपको digilocker हेतु रजिस्ट्रेशन करना होगा व अपना आधार कार्ड इसके साथ लिंक करना अनिवार्य होगा।

यह एप्लीकेशन आधार कार्ड की सहायता से आपके तमाम डिजिटल डाक्यूमेंट्स प्रदर्शित करेगी। जिन्हे आप डाउनलोड भी कर सकते है या चाहे तो मोबाइल एप्प या वेबसाइट या क्लाउड मेमोरी पर स्टोर भी कर सकते है। व किसी आधिकारिक व्यक्ति द्वारा पूछे जाने पर उन्हें प्रदर्शित कर अपने वाहन की प्रमाणिता साबित कर सकते है।

कहा से करे एप्लीकेशन डाउनलोड ?

यदि आप एंड्राइड स्मार्टफोन इस्तमाल करते है तो Playstore पर जा कर इस एप्लीकेशन को अपने फ़ोन में डाउनलोड कर सकते है।

यही आप apple अर्थात iOS यूजर है तो App Store से जा कर इस एप्लीकेशन का लाभ उठा सकते है।

साथ ही आप इसका इस्तमाल digilocker वेबसाइट पर जा कर भी कर सकते है।

क्या है फायदे ?

  • दस्तावेजों की मूल प्रति हमेशा साथ रखने की झंझट से मिलेगा छुटकारा।
  • कही भी व कभी भी किया जा सकेगा आवश्यक दस्तावेजों को एक्सेस।
  • किया जा सकेगा दस्तावेजों का वेरिफिकेशन भी।
  • पेपर-लेस अभियान के कारण पर्यावरण का बचाव।

इसी के साथ आपको बता दे भारत सरकार ने भारी वाहनों हेतु भार ढोने की सीमा को भी 20 से 25 प्रतिशत बढ़ा दिया है। वही ट्रको हेतु अब फिटनेस सर्टिफिकेट भी अब प्रति दो वर्ष में रिन्यू करवाना होगा। जो की पहले सालान हुआ करता था।

इसके अतरिक्त सरकार ने कंस्ट्रक्शन मटेरियल के माल धुलाई हेतु ट्रक बॉडी के पूरी तरह से बंद/closed होने का भी प्रावधान किया है।

Leave a Reply