मोदी सरकार का नया कीर्तिमान, सड़कों में हुआ “विकास”

भारत ने वित्तीय वर्ष 17-18 में कुल 17,055 KM हाईवे निर्माण के आंकड़े को छुआ है। जो अपने आप में एक माइलस्टोन है। व वित्तीय वर्ष 18-19 के पहले ही दिन भारतीय इतिहास में एक ही दिन में सर्वाधिक 27 KM सड़क निर्माण के ऐतिहासिक आंकड़े को भी छुआ।

सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय(MORTH) द्वारा 2014 में भाजपा सत्ता आने के बाद यह उच्चतम आंकड़ा है। जिसमे 8,652 KM PWD (public work department), National Highways Authority of India (NHAI) द्वारा 7,397 KMNHIDCL (National Highways & Infrastructure Development Corporation Limited) द्वारा 1,006 KM सड़क निर्माण का कार्य पूर्ण किया। यह भाजपा सरकार की “प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना” मुहिम की ओर कदम है। हाल ही में मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना में एक बड़ी सफलता हासिल की।

नितिन गडकरी, सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्री  ने कहा की वित्तीय वर्ष -2019 तक उनका लक्ष्य 40KM प्रति दिन का रहेगा। साथ ही कहा कि केंद्र अब राजमार्ग निर्माण की गणना अंतरराष्ट्रीय मानकों के आधार पर कर रहा है, जो कि किलोमीटर निर्माण के साथ लेन निर्माण के बराबर है। 

सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय के सचिव युधिर सिंह मलिक ने कहा कि “अब तक मंत्रालय कुल निर्माण की गणना के लिए अंतराष्ट्रीय पैरामीटर पर विचार कर रहा है। अंतरराष्ट्रीय मानदंडके अनुसार आपको लेन किलोमीटर की गणना करनी  करनी होती है…भारतीय लेन 3.5 मीटर चौड़ी होती है।  मलिक ने कहा, “अगर हम 4-लेन राजमार्ग का निर्माण करते हैं और इसके साथ 2 लेन सर्विस-रोड भी बनाते हैं, तो कुल आप 8 लेन बना रहे हैं।” इस साल, कुल लाइनर लंबाई निर्माण 9,829 किमी है जो 34,878 लेन किमी है और संगत रूप से 94.18 लेन किमी / दिन “

मंत्रालय अब तक रैखिक लंबाई(linear length) में निर्माण की गणना कर रहा था,जो की अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुसार नहीं है। मंत्रालय ने 2017-18 के दौरान 1,16,324 करोड़ रु का व्यय किया, जो की 2015-16 के दौरान 65,136 करोड़ रुपये था। 

1 COMMENT

Leave a Reply