NCAP Rating क्या है? क्या यह भारत में भी लागू होगी? Report

आखिर यह NCAP है क्या? क्या यह भारतीय cars पर भी लागू होता है ? अगर होता है तो इसकी टेस्टिंग कैसी होती है ? कहां होती है? कौन- कौन करता है? इसे NCAP ही क्यों कहा जाता है? चलिए आज आप से इसी टॉपिक पर बात करते हैं कि NCAP है क्या एनसीपी का फुल फॉर्म न्यू कार असेसमेंट प्रोग्राम है लेटेस्ट सभी प्रस्तावित नई कारों पर लागू होता है यानी उन सभी कारों को इस प्रक्रिया से गुजरना होता है जहां पर उन कारों को फ्रंट क्रैश टेस्ट, साइड क्रैश टेस्ट और बैक साइड क्रैश टेस्ट से गुजरना होता है इसमें चाइल्ड सेफ्टी और पेडस्टल सेफ्टी का भी ध्यान रखा जाता है यह प्रोग्राम Bharat New Car safety Assessment programme यानि न्यू कार सेफ्टी असेसमेंट प्रोग्राम (BNVSAP) 2018 फर्स्ट अक्टूबर से प्रस्तावित है और यह उम्मीद की जाती है कि उससे पहले सभी भारतीय कारों के टेस्ट कंप्लीट हो सकते हैं, या यह भी हो सकता है कि नई कारें क्रैश टेस्ट के लिए ही एक्सेप्ट की जाये, यह देश में बिकने वाली कारों में उनकी सुरक्षा के प्रदर्शन [testing] के आधार पर स्टार रेटिंग के द्वारा बताया जाएगा। यह दुनिया में 10 वीं NCAP laboratory है और भारत सरकार के द्वारा लगाई जा रही है।

कार्यक्रम (लैब और अन्य सुविधाओं की स्थापना में देरी की वजह से) वर्ष 2017 से शुरू होते ही सिर्फ on demand होगी, यानि स्टार के साथ पालन करने की 2017 से आवश्यकता होगी, लेकिन यही 2018 से कंपल्सरी रेटिंग होगी । इस तरह के एयरबैग, एबीएस, और सीट बेल्ट standard रूप में महत्वपूर्ण सुरक्षा सुविधाओं भारत में बिकने वाली कारों की रैंकिंग और compulsory crash test हो जाएगा। सामने collision, side collision, और backside collision के प्रभाव test 2017 से कारों पर किया जाना आवश्यक हो जाएगा धीरे-धीरे और अधिक कड़े मानदंडों ऐसे as pedestrian Safety, and child safety और आवश्यकताओं को पूरा करना होगा।

भारत accident से सड़क पर होने वाली मौतों की संख्या पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा है और फ्रांस, स्पेन और जर्मनी जैसे यूरोपीय देशों के तीन से चार गुना ज्यादा है। भारतीय ऑटोमोटिव की सुरक्षा मानकों को अपर्याप्त और अप्रभावी होने के रूप में सार्वजनिक तौर पर आलोचना की गई है। भारत दुनिया का पांचवां सबसे बड़ा कार बाजार है, लेकिन अभी तक एक भी एक भी crash test laboratory नहीं थी, और वाहनों को बगैर सुरक्षा के उपायों के कार बाजार में उतारने वाला एकमात्र देश है।यह अनुमान है कि भारत में वाहनों 8-15% से अधिक इन मानदंडों के अनुपालन से expensive होंगे। हालांकि भारत से export किए जाने वाले वाहन सुरक्षा मानकों का पालन करते हैं, और विश्व स्तर पर बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं। लेकिन इंडिया में अभी भी safest car का उत्पादन ही नहीं किया जा रहा है भारतीयों के लिए.

यह प्रस्ताव है कि इस BNVSAP 2017 अक्टूबर के बाद से परीक्षण शुरू होगा। इस परीक्षण को ARAI द्वारा परिभाषित किया गया है:

Front crash परीक्षण (58 किलोमीटर प्रति घंटे प्रस्तावित) साइड crash testing, Pedestrian safety testing, Rear क्रैश testing और Child safety.

Points कार में एबीएस, सीट बेल्ट, child safety, और इलेक्ट्रॉनिक stability की तरह कार में सुरक्षा सुविधाओं के देने पर प्रदान किया जाएगा।

भारत ने 2006 के बाद से किसी भी अन्य देश की तुलना में प्रति वर्ष से सड़क से होने वाली मौतों को सबसे ज्यादा देखा है, 230,000 मौत की दर सालाना बहुत ज्यादा है। निर्माता 50 किलोमीटर प्रति घंटे पर front crash test करवाना चाहते हैं ताकि उनकी खटारा कार भी पास हो जाएँ। जिसका Gaadify विरोध करता है.

NHTSA अमेरिका में 64.3 किलोमीटर प्रति घंटे (40 मील प्रति घंटा) पर front crash test करता है। BNVCAP, यूरो NCAP के समान है, के तहत crash टेस्ट के नियम चाहता है, जो भारत में औसत गति है के लिए 64 किलोमीटर प्रति घंटे पर परीक्षण किया जाएगा। लेकिन कार निर्माता कंपनी के pressure में आकर 58kmph पर फ़ाइनल किया गया है.

क्रैश टेस्ट सुविधाएं उपलब्ध किया जा रहा है और नियमित रूप से एक साइट NATRIP कहा जाता है पर अपडेट किया जा सकता है,
में यह उम्मीद रखता हूं कि अगले कुछ महीनों में यह रेटिंग सभी कार के लिए उपलब्ध होने लगेगी, सभी भारतीयों के सुरक्षित भविष्य की आकांक्षा रखता हूं.
लिखियेगा कि आप क्या सोचते हैं कि क्या यह सही है और भी strict होने चाहिए? आपके विचारों का इन्तेजार है. धन्यवाद

13 COMMENTS

  1. Sir cars ko category-wise jaise ki hatch,compact sedan,mini suv,suv,etc. Or budget wise bhi rakh sakte hai.
    Upcoming cars,expected pricing,safety awareness ka tab/section rakh sakte hai…
    Thanx for making it…

  2. Please categories it like any news portal as example “danik bhaskar” then it will be more user friendly. In front show all trending and important news and videos and in categories hatchback ,compact sedan,mini suv,suv,vfm cars in specific price range, car accessories, with their price,
    Upcoming cars/bikes,expected pricing,safety awareness, driving skills, tips and tricks to enhance the life of the vehicle etc., you can add information about service centers with their contact details. Thank you.

  3. Sir, Tata tigor petrol XZO and Nexon XM lagbhag same price point pe aajate hai
    According to you kaun si leni chahiye??

  4. Sir Volkswagen ameo petrol ke sabhi variant me value for money variant k bare me details btaye and review video v

Leave a Reply